Ten Thousand Year Old Giant Armadillo Shell is found in Argentina…

दोस्तों आज से लगभग हजारों-करोड़ों साल पहले हमारी धरती पर डॉयनासोर का राज था जो देखने में हाथी से बड़े, विशालकाय और बहुत ज्यादा वजनदार और अधिकांश डॉयनासोर खूंखार थे जो अब विलुप्त हो चुकें हैं। Old Giant Armadillo Shell found in Argentina.

लेकिन हाल ही में मछुआरों के एक समूह को 10,000 वर्ष पुराना एक ऐसे चौपाये ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति के जानवर का बुलेट प्रूफ शेल का अवशेष मिला जिसे बंदूक की गोली भी नहीं भेद सकती।

तो चलिये जानते हैं यह बुलेट प्रूफ शेल का अवशेष किस जानवर का है।

कहां पर मिला बुलेट प्रूफ शेल का अवशेष।

बताया जा रहा है कि मछुआरों को अर्जेंटीना के ग्रेटर ब्यूनस आयर्स के इलाके बैरियो ला फ्लेचा में ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति के जानवर का बुलेट प्रूफ सुरक्षा कवच मिला है जो हजारों- करोड़ों वर्षों से रेत में दबा हुआ था।

Read More : शरद माथुर ने ऑयल पेंट से लिखी 3 हजार पन्नों की सम्पूर्ण रामचरित मानस।

इस बुलेट प्रूफ शेल को ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति के जानवर के बारे में बताया जा रहा है। यह जानवर दक्षिणी अमेरिका में हजारों साल पहले रहा करते थे। जिसने शरीर पर एक मजबूत खोल जैसा कवच से ढका होता था, जिसे बंदूक की गोली भी नहीं भेद पाती थी।

आज के आर्मडिलो के पूर्वज रहे थे ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति के जानवर।

सन 2016 में जीव विज्ञान में प्रकाशित किया गया था कि ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति के जानवर जो आज से 350 लाख वर्ष पहले दक्षिण अमेरिका में रहे थे। इन जानवर के शरीर पर चारों ओर से हडि्डयों से बना एक मजबूत बुलेट प्रूफ कवच जैसा था जो करीब दो इंच की मोटाई का होता था।

4 वर्ष मे 2 बार मिला बुलेट प्रूफ शेल।

खबरों के मुताबिक सन 2015 में उसी जगह जॉन्स एंटोनिया निवास नाम के एक किसान को भी इसी तरह का बुलेट प्रूफ शेल का अवशेष मिला था, जिसे उसने किसी डायनासोर के अंडे का भ्रम समझ लिया था परंतु बाद में वैज्ञानिकों द्वारा शोध करने पर पता चला यह कोई अंडा नहीं है बल्कि ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति के जानवर का एक मजबूत कवच है।

शरीर की सरंचना।

अर्जेंटीना के बर्नार्डिनो रिवाडाविया प्राकृतिक विज्ञान संग्रहालय के वैज्ञानिक एलेजांद्रो क्रामार्ज का कहना है ग्लाइप्टोडॉन्ट प्रजाति का यह जानवर आज के समय में अस्तिव में आने वाले आर्मडिलो के पूर्वज रहे थे जो कि पौधे के अलावा सड़ा-गला हुआ मांस और कीड़े-मकौड़े खाते थे।

Read More : 803 किलो का कद्दू, बना अनोखा रिकॉर्ड, जीते 1.60 लाख रुपये।

एक अनुमान के मुताबिक इस जानवर की लगभग 11 फीट की लंबाई और वजन दो टन यानि कि करीब 2000 किलो तक होता था। 10 हजार वर्ष पहले इन वजनदार और कवचधारी जानवर इस धरती में पाये जाते थे।

Read More : रॉब लॉलेस करते है अजनबी लोगो से दोस्ती, अब तक बनाये 2,800 अजनबी दोस्त।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here